उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज पोस्टल योजना : ऑनलाइन आवेदन कैसे करे, Uttarakhand Five Star Village Scheme 


Uttarakhand Five Star Village Scheme: उत्तराखंड सरकार द्वारा गावं के नागरिको को सुविधा प्रदान करने के लिए एक अहम योजना की शुरुआत करने जा रही हैं।  जिसका नाम उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना हैं राज्य सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से राज्य के वे गांव जिनमे डाक सेवा नहीं है, वहां योजना के माध्यम से डाक उत्पादों एवं डाक कार्यालयों की ज़रूरत को पूरा किया जाएगा। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से योजना से जुड़ी जानकारी आपके साथ साझा करेंगे। इस्लिय आप Uttarakhand Five Star Villages Scheme का पूर्ण लाभ प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को अंत तक अवशय पढ़े।

Uttarakhand Five Star Village Scheme

Meghavi Chhatr Protsahan Yojana

Uttarakhand Five Star Village Scheme

 प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना की  शुरुआत 1 दिसंबर 2020 को की गई हैं। राज्य सरकार द्वारा Five Star Village Scheme के माध्यम से भारतीय डाक विभाग देश के ग्रामीण क्षेत्रों में पोस्ट ऑफिस की वह सभी योजनाएं पहुंचाई जाएंगी जो अब तक वहां उपलब्ध नहीं है, जैसे की बेंकिग की सुविधा आदि का लाभ प्राप्त करके ग्रामीण नागरिको को आसानी उपलब्ध कराई जा रही हैं।  साथ ही   Five Star Village Scheme  के माध्यम से भारतीय डाक विभाग द्वारा अपनी योजनाओं की 100% कवरेज सुनिश्चित की जाएगी। इसके आलावा लाभार्थी को इस योजना के माध्यम से सुकन्या समृद्धि योजना खाता या पीपीएफ खाते उपलब्ध कराये जाएंगे।  अब गावं के सभी लोगो को Uttarakhand Five Star Village Postal Yojana के माध्यम से बैंकिंग सुविधाओं और सभी सरकारी योजनाओं का लाभ आसानी से उठा सकेंगे।

अनुसूचित जाति स्वत: स्वरोजगार योजना

Overview of the Uttarakhand Five Star Village Scheme

योजना का नामउत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना 
लाभार्थी ग्रामीण क्षेत्र के लोग 
योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को पोस्ट ऑफिस की सुविधाएं उपलब्ध कराना 
शुरू की गईराज्य मंत्री संजय धोत्रे जी के द्वारा
योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्र के सभी डाकघर संबंधी जरूरतों को पूरा किया जाएगा 
आवेदन की प्रक्रिया अभी घोषित नहीं की गई 
विभागभारतीय डाक विभाग 
आधिकारिक वेबसाइट  

उत्तराखंड पशु सखी योजना 

Uttarakhand Five Star Village Scheme  का उद्देश्य

हम सभी जानते हैं की पहले ग्रामीण इलाको में रहने वाले लोगो को डाकघर का लाभ नहीं मिल पाता था इसलिए उन्हे दूर शहर जाकर अपनी आवशयकताएँ पूरी करनी पड़ती थी, जिससे उनेह काफी समस्याओ का सामना करना पड़ता था। इन सभी परिस्थति को ध्यान में  रखते हुए ,उत्तराखंड सरकार द्वारा Five Star Village Scheme की शुरुआत की गई हैं। राज्य सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के सभी ग्रामीण क्षेत्रों तक डाकघर की योजनाओं को पहुंचाना है। ताकि  उत्तराखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोग भी डाकघर योजनाओं का लाभ आसानी से उठा सके।  Five Star Village Scheme के अंतर्गत अप्लाई करने के लिए अभी  केवल 50 गावो का ही चयन किया गया है जो की अलग अलग जिलों से है। ये योजना मुख्य रूप से सुंदरवर्ती गावो में सार्वजनिक जागरूकता फैलाने मदद करेगी।

मुख्यमंत्री सशक्त बहना उत्सव योजना

उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज पोस्टल योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तराखंड सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत 1 दिसंबर 2020 को की गई हैं।
  • Five Star Village Scheme के अंतर्गत उत्तराखंड के 50 ग्रामीण इलाकों में डाकघर योजनाएं पहुंचाई जाएंगी।
  • जिससे उनेह आसानी से  सभी सुविधा मिल सके।
  • अब डाकघर अपनी योजनाओं की 100% कवरेज सुनिश्चित करेगा।
  • उत्तराखंड के शिक्षा संचार इलेक्ट्रॉनिक आईटी राज्य मंत्री दुवारा उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना  शुरू की गयी है।
  • इसमें एक वन स्टॉप शॉप के रूप में कार्य करेगी। ये मुख्य रूप से सुंदरवर्ती गावो में सार्वजनिक जागरूकता फैलाने मदद करेगी।
  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत  लाभार्थी को  पाँच प्रकार का लाभ दिया जायगा।
  • अब इस योजना का लाभ प्राप्त करके लोग अपनी बचत खाते रैंकिंग डिपोसिट खाते एनएससी केवीपी प्रमाण पत्र के लिए आवदेन कर सकते है।
  • उत्तराखंड सरकार द्वारा Five Star Village Scheme के अंतर्गत सुकन्या या समृद्धि खाते या पीपीऍफ़ खाते भी खोले जायगे।
  • यदि गांव पांचों योजनाओं में हिस्सा लेगा तो उसे 5 स्टार का नाम दिया जाएगा।
  • उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना को पांच ग्रामीण डाक सेवकों की टीम द्वारा कार्यान्वित किया जाएगा।
  • जिन्हें डाक विभाग के सभी उत्पादों, बचत और बीमा योजनाओं के विपणन के लिए एक गाँव सौंपा जाएगा।
  • साथ ही इन सभी सेवाओं की मार्केटिंग की जाएगी जिससे सेवाओं को प्रमोट भी किया जायेगा।

उत्तराखण्ड मुख्यमंत्री ज्ञानकोष योजना

फाइव स्टार डाक योजना में परिवर्तित योजनाओं की सूची

  • (SB, TD, RD, MIS, NSC, KVP) सेविंग बैंक
  • (SSY) सुकन्या समृद्धि योजना
  • (PMSBY) प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना
  • (IPPB) इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB)
  • (Postal Life Insurance PLI) डाक जीवन बीमा(PPF) सर्वजनिक भविष्य निधि

श्रेष्ठ योजना 

Five Star Village Postal Yojana की पात्रता

  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना का लाभ राज्य के मूल निवासी को  .प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ  सभी ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंचाया जाएगा।  जहां  डाकघर की सुविधा मौजूद नहीं हैं।

Five Star Village Scheme आवश्यक दस्तावेज

  • लाभार्थी का आधार कार्ड
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • वोटर आईडी कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पते संबंधी प्रमाण पत्र

 खेलो इंडिया यूथ गेम्स

उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना आवेदन की प्रक्रिया

यदि आप उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना  में आवेदन करना चाहते है। तो हम आपको बता दें की फिलहाल राज्य सरकार द्वारा आवेदन हेतु कोई भी जानकारी साझा नहीं की गयी है। क्योकि राज्य सरकार द्वारा योजना को  हाल ही में  शुरू किया गया हैं जैसे ही उत्तराखंड  सरकार द्वारा योजना से जुडी कोई जानकरी दी जाएगी।  तो हम आपको तुरंत अपने आर्टिकल के ,माध्यम से सूचित कर देंगे  जैसे –   योजना में ऑनलाइन या ऑफलाइन या अन्य किसी भी प्रकार से आवेदन करने की कोई ऑफिशियली जानकारी आदि प्राप्त करने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल  के साथ जुड़े रहें।

FAQ‘s Uttarakhand Five Star Village Postal Yojana 

उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना को क्यों जारी किया गया है ?

राज्य के बहुत से ग्रामीण इलाके ऐसे है जिन्हे अभी डाकघर जैसी सुविधाओं का लाभ प्राप्त नहीं हुआ है योजना के अंतर्गत ऐसे ग्रामीण क्षेत्रों को बैंकिंग सुविधाओं से जोड़ने के लिए उत्तराखंड फाइव स्टार विलेज योजना को क्यों जारी किया गया है।

Five Star Village Postal Yojana की शुरुआत कब से हुई है ?

UK Five Star Village Postal Yojana की शुरुआत 1 दिसंबर 2020 को राज्य मंत्री संजय धोत्रे द्वारा शुरू की गयी है। इसकी शुरुआत उत्तराखंड में हुई है।

Uttrakhand Five Star Village Postal Yojana में कितने ग्रामीण क्षेत्रों को शामिल किया जायेगा?

उत्तराखंड राज्य में Five Star Village Postal Yojana के माध्यम से 50 ग्रामीण इलाको को शामिल किया गया है। जो बैंकिंग जैसी सुविधाओं से वंचित है।

Leave a Comment